Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

खुशखबर: अब ज्यादा लोग कर सकेंगें हवाई यात्रा, सरकार ने बढ़ाई घरेलू उड़ानों की क्षमता

Spread the love

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर समाप्त होने के कगार पर है। कोरोना के दैनिक मामलों में कमी के साथ ही कारोबारी गतिविधि सामान्य होने लगी है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने घरेलू उड़ानों की संख्या को बढ़ा दिया है। घरेलू उड़ानों की संख्या में 15 फीसदी का इजाफा करने की अनुमति दे दी गई है। पहले 50 फीसदी विमानों को उड़ने की छूट थी। अब यह सीमा बढ़कर 65 फीसदी हो गई है। 

31 जुलाई तक जारी रहेगा अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध

मालूम हो कि कोरोना वायरस महामारी के चलते नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने भारत में शेड्यूल अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों की आवाजाही पर प्रतिबंध 31 जुलाई 2021 तक बढ़ाया है। यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय ऑल-कार्गो संचालन और विशेष रूप से विमानन नियामक द्वारा अनुमोदित उड़ानों पर लागू नहीं है। चुनिंदा देशों के साथ द्विपक्षीय एयर बबल समझौतों के तहत चलने वाली उड़ानें जारी रहेंगी। 

एटीएफ दरें बढ़ीं, हवाई यात्रा हो सकती है महंगी

ध्यान रहे कि एयरलाइंस कंपनियां टिकट की कीमतें बढ़ा सकती हैं। हवाई जहाज में बतौर ईंधन इस्तेमाल होने वाले एयर टर्बाइन फ्यूल (ATF) की कीमत दिल्ली में बढ़कर 68,262 रुपये प्रति किलोलीटर पहुंच गई है। यह इस साल जनवरी के मुकाबले करीब 30 फीसदी ज्यादा है। इस साल जनवरी में एटीएफ की कीमत 50,979 रुपये थी। इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने दिल्ली क्षेत्र में एक जुलाई को एटीफ की कीमत में 3.6 फीसदी बढ़ोतरी की। आईओसी देश में एटीएफ की सबसे बड़ी सप्लायर है। वैश्विक बाजार में ऑयल की कीमतें बढ़ने से घरेलू बाजार में एटीएफ की कीमतें बढ़ रही हैं।

कोरोना के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर लगेगा जुर्माना

हाल ही में नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा था कि सभी हवाई अड्डे के परिचालकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि हवाई अड्डे पर और यात्रा के दौरान लोगों ने मास्क सही तरीके से पहना है या नहीं। साथ ही हवाई अड्डे के परिसर में सुरक्षित शारीरिक दूरी भी बनाए रखनी होगी। डीजीसीए ने एयरलाइंस को अचानक जांच करने का निर्देश भी दिया। अगर एयरलाइंस विमान के अंदर नियमों का पालन सुनिश्चित नहीं करा पाती हैं, तो उन पर जुर्माना भी लगाया जा सकता है। साथ ही, यदि कोई व्यक्ति बार-बार चेतावनी के बावजूद नहीं मानता है तो उसके साथ ‘अनियंत्रित यात्री’ जैसा व्यवहार किया जाएगा

  •  
  •  

Leave a Comment