Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

सुविधा: यात्रा ना करने पर अपने परिजन के नाम ट्रांसफर करा सकते हैं टिकट, जानें क्या करना होगा

देश में यात्रा करने के लिए भारतीय रेलवे सबसे ज्यादा आरामदायक और सुविधाजनक माध्यम है, लेकिन इसकी कई सुविधाओं के बारे में आम जनता को नहीं पता होता है। आपने कभी ट्रेन का टिकट बुक कराया होगा लेकिन किसी कारणवश आप यात्रा नहीं कर पाए होंगे, ये स्थिति कई बार आम जनता की ओर से महसूस की गई है। 

अगर यात्रा से ठीक पहले किसी के सामने ऐसी समस्या आ जाती है तो आमतौर पर वह टिकट कैंसिल कराकर किसी अन्य परिजन के नाम से नई टिकट बुक करा सकते हैं। लेकिन इसमें यह दिक्कत और आती है कि नई टिकट बुक कराने के लिए आपके परिजन को कंफर्म टिकट नहीं मिल पाता है।

24 घंटे पहले करें यह काम :-

ऐसी ही असुविधाओं से बचने के लिए भारतीय रेलवे अपने यात्रियों को एक शानदार सुविधा उपलब्ध कराता है। अगर आपके साथ ऐसा होता है कि भारतीय रेलवे के नियमों के मुताबिक, आप अपने टिकट को अपने किसी परिजन के नाम पर ट्रांसफर करा सकते हैं। इसके लिए आपको प्रस्थान से 24 घंटे में पहले नजदीकी रेलवे रिसजर्वेशन काउंटर पर जाना होगा।

इसके बाद आपको काउंटर पर टिकट की कॉपी दिखानी होगी और अपनी आईडी के साथ परिजन की आईडी भी दिखानी होगी, जिसके नाम पर टिकट ट्रांसफर करानी है। टिकट और सभी दस्तावेजों के साथ आपको टिकट ट्रांसफर करने के लिए आवेदन करना होता है। इसके बाद रेलवे रिजर्वेशन सेंटर का अधिकारी आपकी टिकट को आपके किसी भी परिजन के नाम पर ट्रांसफर कर सकता है। 

जानिए कैसे कर सकते है टिकट का ट्रांसफर ;-

टिकट ट्रांसफर के दौरान आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि ये ट्रांसपर आप सिर्फ अपने माता, पिता, भाई, बहन, पुत्र, पुत्री, पति और पत्नी के नाम पर ही करा सकते हैं। अगर आपके अपने किसी दोस्त के नाम पर टिकट ट्रांसफर कराना चाहते हैं तो ये संभव नहीं है। इसके अलावा अगर किसी शादी या पार्टी में जाने वाले लोगों के सामने ऐसी स्थिति आती है तो शादी और पार्टी के आयोजक को 48 घंटे पहले जरूरी दस्तावेजों के साथ आवेदन करना होता है। ये सुविधा आपको ऑनलाइन भी मिल सकती है।

close

Oh hi there 👋
It’s nice to meet you.

Sign up to receive awesome content in your inbox, every month.

We don’t spam! Read our privacy policy for more info.

Leave a Comment