Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

क्या भारत में ऐसी भी कोई जगह है जहा पर लड़कियां अकेली घूम सकती है वो भी सुरक्षित?

Spread the love

 जिन्दगी में कई बार हमारे साथ सब लोग होते है लेकिन हम फिर भी हम हमारे अपनों से दूर ऐसी जगह की तलाश में रहते है जहां हमारा अपना कोई ना हो। कभी-कभी हमारे साथ ऐसा होता है की हम कुछ पल अकेले में बिताना चाहते है। खुदको जानने के लिए, खुदसे बाते करने के लिए कई बार हम अकेले कही जाने की योजना बनाते है। पुरुषों के लिए तो किसी भी समय किसी भी जगह जाना उचित होता है। परन्तु महिलाओं के लिए अकेले कही जाने का सोचने में भी थोड़ी घबराहट होती है। क्योकि महिलाओं के साथ दुर्घटना होने की संभावनाये पुरुषों की तुलना में अधिक होती है।

हालाकि महिलाओं की भी इक्षा होती है की वो कही ऐसी जगह अकेले में घूमने जाए जहां वह पूरी तरह से सुरक्षित हो। आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ऐसी कई जगहों के बारे में बतायेंगे जहां महिलायें पूरी तरह से सुरक्षित रूप से अकेले यात्रा कर सकती है –

कसोल हिमाचल प्रदेश –

कसोल भारत के खूबसूरत पर्यटन स्थलों में से एक है जोकि हिमाचल प्रदेश की खूबसूरत वादियों में बसा हुआ छोटा सा गाँव है। कसोल गाँव पार्वती नदी के किनारे पर बसा हुआ है। यह स्थान अकेली घूमने आई लडकियों के लिए सुरक्षित है क्योंकि ग्रामीण लोगो का व्यवहार पर्यटकों के लिए बहुत अच्छा होता है। यहाँ के लोग पर्यटकों की दिल से मदद करते है। कसोल के लोग अतिथि का आदर सत्कार करना बहुत अच्छी तरह से जानते है। प्रकृति से प्यार करने वालों के लिए कसोल गाँव धरती पर स्वर्ग के सामान है।

यहाँ की प्राकृतिक सुन्दरता पर्यटकों को सहज ही अपनी और आकर्षित करती है। पार्वती नदी के किनारे पर समय बिताना और यहाँ की ठंडी हवा में खो जाना हर किसी के दिल को लुभाता है। ट्रेकिंग के लिए भी कसोल में कई जगह है। बर्फ से ढके इस क्षेत्र में घूमने के बाद आप यहाँ की यादों को कभी नही भुला पायेंगे। कसोल गाँव को ‘लिटिल ग्रीस’ की उपाधि भी दी गई है। कसोल गाँव में इज़राइल के लोगों की एक बड़ी संख्या रहती है, इसलिए कसोल में इजराइली भोजन बहुत ज्यादा प्रसिद्ध है।

वाराणसी उत्तर प्रदेश – 

 भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में पवित्र गंगा नदी के किनारे स्थित है। वाराणसी एक प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है। पुरे भारत में अकेली महिलाओं के लिए यह स्थान बहुत ही सुरक्षित है क्योकि वाराणसी धार्मिक स्थान है। गंगा नदी की यात्रा करने यहाँ हजारों की संख्या में हर साल तीर्थ यात्री आते है और अपने पापों से मुक्ति पाते है। वाराणसी बहुत ही प्राचीन शहर है और वर्षों से यह पवित्रता के कारण जाना जाता है। जब शाम को गंगा मैया की आरती होती है तो यहाँ का माहौल बहुत ही अद्भुत और देखने योग्य होता है। मन को सुकून और आत्मा को शान्ति देने वाला यह क्षेत्र पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है।

महाबलीपुरम तमिलनाडु –

महाबलीपुरम तमिलनाडु राज्य में स्थित है। महावलीपुरम का एक और नाम ममल्लापुरम भी है। ऐसा माना जाता है कि एक दानव राजा महाबली इस स्थान पर रहते थे। उनके नाम पर इस स्थान का नाम महाबलीपुरम पड़ा परन्तु उनकी मृत्यु के बाद महाबलीपुरम का नाम ममल्लापुरम रखा गया। महाबलीपुरम अपने मंदिरों और गुफाओं के लिए बहुत प्रसिद्ध है। यहाँ के मंदिर इतनी सुंदर नक्काशी के साथ बने है की देखने वालों की आंखे खुली की खुली रह जाती है।

महाबलीपुरम बंगाल की खाड़ी के किनारे पर कोरोमंडल के तट पर स्थित है। महाबलीपुरम में कैनुरीना के पेड़ देखने को मिलते है जो की अन्य किसी जगह देखने को नही मिलते है। महाबलीपुरम में रेतीले खूबसूरत समुद्र तट है जो पर्यटकों को शांति प्रदान करते है। महाबलीपुरम भी लडकियों के लिए सुरक्षित तथा अकेले में घूमने के स्थानों में से एक है। महाबलीपुरम में मगरमच्छों की बहुत सारी प्रजातियाँ एक ही स्थान पर एकत्रित है। यह एक अलौकिक और शानदार जगह है।

ज़ांस्कर घाटी लेह लद्दाख – 

लद्दाख में स्थित ज़ांस्कर घाटी भारत की खूबसूरत जगहों में से एक है। ज़ांस्कर घाटी जम्मू-कश्मीर के पूर्व में स्थित हैं जोकि अपने विभिन्न गुफा मठों के कारण विश्व प्रसिद्ध है। ज़ांस्कर घाटी में वर्ष के 9 महीने बहुत तेज बर्फ गिरती है। इस बर्फीले क्षेत्र की सुंदरता यहाँ की सुन्दर घाटियों के कारण है। पर्यटक इस स्थान पर रिवर राफ्टिंग और ट्रेकिंग का आनंद लेते है। झीलों के बीच बसी इस जगह पर महिलायें सुरक्षित रूप से यात्रा कर सकती है। ज़ांस्कर घाटी बर्फीली सुन्दर चट्टानों, ऊँची-ऊँची चोटियों और धरातल में पानी की सुन्दर भूमि के लिए जानी जाती है। इस सुन्दर क्षेत्र में अकेले घूमने का मजा ही अलग होता है। महिला यात्री भारत के इस महफूज स्थान पर अकेले भी घूम सकती हैं।

माजुली द्वीप –

भारत के प्रमुख पर्यटन स्थान जहां महिलाएं अकेली घूमने जा सकती है इनमे से एक माजुली द्वीप भी है जोकि असम राज्य में स्थित है। असम के जोरहट शहर से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह आकर्षक स्थान पर्यटकों को अपनी और खीचता है। माजुली द्वीप दुनिया का सबसे बड़ा नदी द्वीप है। ब्रह्मपुत्र नदी की पवित्रता तथा प्रदूषण से मुक्त यह ताजे पानी का द्वीप यूनेस्को की विश्व धरोहर के रूप में जाना जाता है। माजुली शहर त्यौहारों के कारण भी फेमस है। माजुली के प्रमुख त्यौहारों को “रास” कहा जाता है। हर त्यौहार बहुत धूमधाम से मनाये जाते है। पर्यटकों को इन त्यौहारों का आनंद लेने का मौका हाथ से नही गवाना चाहिए।

  •  
  •  

Leave a Comment